18वें एशियाई खेलों की कुश्ती प्रतियोगिता में विनेश फोगाट ने रचा इतिहास, एशियाड में स्वर्ण पदक जीतने वाली पहली भारतीय महिला रेसलर बनीं


जकार्ताः राष्ट्रमंडल खेलों की स्वर्ण पदक विजेता महिला पहलवान विनेश फोगाट ने जबरदस्त प्रदर्शन करते हुये 18वें एशियाई खेलों की कुश्ती प्रतियोगिता के 50 किग्रा वर्ग में सोमवार को स्वर्ण पदक जीतकर नया इतिहास रच दिया। विनेश ने इस तरह भारत को इन खेलों में दूसरा स्वर्ण और कुश्ती का भी दूसरा स्वर्ण दिलाया। विनेश इसके साथ ही एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीतने वाली पहली भारतीय महिला पहलवान बन गयीं। बजरंग पूनिया ने कल इन खेलों में देश को पहला स्वर्ण पदक दिलाया था। विनेश ने 50 किग्रा के फाइनल में जापान की इरी यूकी को 6-2 से पराजित किया।

इससे पहले विनेश ने चीन की सन यनान को 8-2 से हराकर क्वार्टर फाइनल में जगह बनाई थी। इसके बाद उन्होंने यूनिफाइड कोरिया की किम हिंगजू को 11-0 से हराकर सेमीफाइनल में प्रवेश किया था। रियो ओलिंपिक 2016 में उतरी विनेश को 48 किग्रा भार वर्ग में ग्रीस के खिलाफ क्वार्टर फाइनल मुकाबले में घुटने में चोट लग गई थी, जिसके कारण वे जनवरी 2017 तक मैट पर नहीं उतर पाईं थीं।

पहलवान बजरंग पूनिया दिला चुके हैं गोल्ड

खेल के पहले दिन पहलवान बजरंग पूनिया ने भारत को पहला गोल्ड दिलाया था। बजरंग ने कुश्ती मुकाबलों के 65 किग्रा फ्री स्टाइल वजन वर्ग के फाइनल में जापान के दाइची ताकातानी को 11-8 से पराजित कर एशियाई खेलों में अपना पहला स्वर्ण पदक जीता। बजरंग ने लगातार बेहतरीन प्रदर्शन किया और अपने रास्ते के सभी पहलवानों को धूल चटाते ए खिताब अपने नाम किया।

  • 8
    Shares

LEAVE A REPLY