युवक को रेलवे पटरी पर पेशाब करना पड़ा महंगा, अपनी जान देकर चुकाई कीमत


रेलवे लाइन पर पेशाब करने का खामियाजा एक युवक को अपनी जान दे कर चुकाना पड़ा. पश्चिम-बंगाल के झारग्राम के देवाशीष कुंडू को रेलवे की पटरी के पास पेशाब करता देख रेल पुलिस उसे थाने ले गई| जहां पुलिस ने युवक की इतनी पिटाई की कि उसका स्पाइनल कॉर्ड ही टूट गई. एक महीने बाद वह जिंदगी की जंग हार गया और उसकी मौत हो गई| सोमवार की रात कोलकाता के एसएसकेएम हॉस्पिटल में देवाशीष की मौत हो गई| घटना के बाद देवाशीष के परिवार वालों ने झारग्राम आरपीएफ थाने के सामने जमकर प्रदर्शन किया और दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा देने की मांग की|

24 जून को देवाशीष अपने परिवार वालों के साथ बहन की गोदभराई के कार्यक्रम में गया था. शाम को अपने परिवार के साथ घर वापस लौटने के लिए स्टेशन पर पहुंचा तो वह पेशाब करने के लिए पटरी के पास चला गया| पटरी के पास पेशाब करता देख आरपीएफ उसे उठाकर ले गई और बुरी तरह पिटाई कर दी. रात करीब 10 बजकर 30 मिनट पर उसे झारग्राम हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया. देवाशीष ने एक वीडियो रिकॉर्ड कर पूरी घटना बताई, जिसके बाद आरपीएफ दवाब में आ गई|

देवाशीष ने कल कलकत्ता के एसएसकेएम में आखिरी सांस ली. मृतक के परिवारवालों ने शिकायत दर्ज कराई है और दोषियों को कठोर सजा देने की मांग की है. इस घटना पर खरगपुर डिवीज़न के सीनियर डीसीएम कुलदीप तिवारी ने कहा के इस केस की जांच जीआरपी ने शुरू कर दी है. जांच रिपोर्ट आने के बाद उचित कार्रवाई की जाएगी|

  • 534
    Shares

LEAVE A REPLY