इस देश की सरकारी एयरलाइंस में 5 मैट्रिक फेल पायलट भी उड़ा रहे थे प्लेन – खतरे में डाली पैसेंजर्स की जान


caa-report-reveals-five PIA Pilots

पाकिस्तान में 10वीं फेल पायलट सरकारी एयरलाइंस के प्लेन उड़ा रहे थे। देश की सिविल एविएशन अथॉरिटी ने इसे लेकर खुलासा किया है, जिसके बाद पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइंस के 5 पायलट अरेस्ट कर लिए गए हैं। 50 पायलट को सस्पेंड भी किया गया है। अथॉरिटी को इससे पहले 7 पायलट्स के एजुकेशनल सर्टिफिकेट फर्जी होने की जानकारी मिली थी, जिसके बाद ये खुलासा हुआ।

खतरे में डाली पैसेंजर्स की जान

  • रिपोर्ट के मुताबिक, जस्टिस इजाज अहसान के हवाले से कहा गया कि 10 वीं फेल व्यक्ति को यहां बस भी नहीं चला सकता। ये लोग तो विमान उड़ा रहे थे और ऐसा कर पैसेंजर्स की जिंदगियों को खतरे में डाल रहे थे।
  • सुप्रीम कोर्ट की चीफ जस्टिस की अगुवाई वाली बेंच सरकारी हवाई सेवा में कार्यरत पायलट और अन्य कर्मचारियों की डिग्री की प्रामाणिकता से जुड़े एक मामले की सुनवाई कर रही थी।
  • सीएए ने सुप्रीम कोर्ट को बताया कि पीआईए के 5 पायलट ऐसे हैं, जिन्होंने मैट्रिक एग्जाम भी पास नहीं कर रखा है। वहीं, कुल 7 पायलटों ने फर्जी सर्टिफिकेट के आधार पर पीआईए में नौकरी पाई।
  • सुप्रीम कोर्ट ने इन पायलट के लाइसेंस की भी डीटेल्स मांगी है। वहीं, पीआईए ने इसके बाद तकरीबन 50 कर्मचारियों को एजुकेशनल डॉक्युमेंट न दे पाने को लेकर सस्पेंड कर दिया है।

अथॉरिटी को आर रही ये दिक्कत

  • अथॉरिटी ने कोर्ट को बताया कि शैक्षिक बोर्ड और यूनिवर्सिटी डिग्री प्रामाणिकता प्रक्रिया में सहयोग नहीं करतीं। इसके चलते अधिकारियों को कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है।
  • पीआईए भी पायलट और केबिन क्रू और अन्य कर्मचारियों का रिकॉर्ड उपलब्ध कराने में देरी भी करती है। वहीं, पीआईए के अफसर ने कोर्ट में बताया कि 50 से ज्यादा कर्मचारियों को शिक्षा से जुड़े दस्तावेज उपलब्ध नहीं कराने पर निलंबित भी किया गया।
  • 45
    Shares

LEAVE A REPLY