बूढ़ी आंखों का इंतजार हुआ खत्म, 36 साल बाद पाक से वतन लौटे गजानंद शर्मा


स्वतंत्रता दिवस से ठीक दो दिन पहले जयपुर के गजानंद शर्मा को सही मायनों में आजादी मिल गई। पिछले 36 साल से पाकिस्तान की जेल में बंद गजानंद आज वतन लौट आए हैं। सालों बाद उनके परिवार में खुशियां लौटी, अपने पति को देखते ही 62 वर्षीय पत्नी मखनी देवी अपने आंसू नहीं रोक पाई। गजानंद का अपराध तो आज तक पता नहीं चला, लेकिन उन्हें सजा केवल दो महीने की ही हुई थी इसके बावजूद उन्होंने 36 साल पाकिस्तान की जेल में गुजारी।

गजानंद जयपुर में फतेह राम के टीबा नाहरगढ़ के रहने वाले हैं। वह 1982 में अचानक लापता हो गए थे जिसके बाद उनका कुछ पता नहीं चला था। गजानंद के जिंदा होने की जानकारी उनके परिवार को इस साल तब मिली जब उनकी की नागरिकता की जानकारी से संबंधित पाकिस्तान से कुछ कागजात जयपुर ग्रामीण एसपी के कार्यालय पहुंचा। जिसके बाद परिवारवालों की खुशी का ठिकाना नहीं रहा उन्हे एक उम्मीद की किरण दिखाई दी।

कुछ दिन पहले जयपुर के सांसद रामचरण बोहरा की अगुआई में हवामहल विधानसभा क्षेत्र के विधायक सुरेन्द्र पारीक, गजानंद शर्मा की पत्नी मखनी देवी, उनके बेटे मुकेश शर्मा और अन्य लोगों का एक प्रतिनिधिमंडल विदेश राज्यमंत्री सिंह से मिला था। जिस दौरान सिंह ने आश्वस्त दिया था कि लाहौर की जेल में बंद गजानंद 13 अगस्त को रिहा हो जाएंगे।

  • 288
    Shares

LEAVE A REPLY