माता वैष्णो देवी जाने वाले भगतों के लिये खुशखबरी – जल्द भगत कर सकेंगे उड़न खटोले से यात्रा


vaishno-devi

वैष्णो देवी भवन-भैरों यात्री रोपवे का काम अंतिम चरण में है और बहुत जल्द इसके चालू होने की संभावना है. एक वरिष्ठ अधिकारी ने इस बारे में बताया है कि विशेषज्ञों का एक दल अंतिम परीक्षण और सुरक्षा संबंधी अन्य जांच कर रहा है. रोप-वे के सहारे सिर्फ तीन मिनट में वैष्णो देवी की गुफा से भैरो मंदिर पहुंचा जा सकेगा.

यह रोपवे जम्मू-कश्मीर के रियासी जिले की त्रिकुटा पहाड़ियों में स्थित माता वैष्णो देवी मंदिर तक जाने के लिए श्रद्धालुओं के सफर को आसान बनाएगा. श्री माता वैष्णोदेवी श्राइन बोर्ड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) सिमरनदीप सिंह ने कहा, परियोजना का ट्रायल एवं परीक्षण औपचारिक रूप से 26 नवंबर को शुरू हुआ और यह दिसंबर के पहले हफ्ते तक पूरा हो जाएगा. इसके बाद परियोजना को ‘यात्रियों’ के लाभ के लिए शुरू कर दिया जाएगा.

उल्‍लेखनीय है कि हाल ही में ‘श्री माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड’ (एमवीडीएसबी) की बैठक में यह फैसला भी लिया गया तीर्थस्थल वैष्णो देवी जाने वाले तीर्थयात्रियों का पांच लाख रुपये का निशुल्क बीमा कराया जाएगा. जम्मू एवं कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक की अध्यक्षता में हाल ही में श्राइन बोर्ड (एमवीडीएसबी) की बैठक में यह फैसला लिया गया. बोर्ड ने तीर्थ स्थल आने वाले तीर्थयात्रियों को पांच लाख रुपये के निशुल्क दुर्घटना बीमा के अतिरिक्त घायल तीर्थयात्रियों का निशुल्क इलाज कराने का निर्णय लिया. राज्यपाल बोर्ड के अध्यक्ष भी हैं.

प्रवक्ता ने कहा कि यात्रा की पर्ची लेकर यात्रा शुरू करते ही तीर्थयात्री का दुर्घटना बीमा हो जाएगा. प्रवक्ता ने कहा, ‘यह साफ करना जरूरी है कि बीमा का प्रीमियम बोर्ड द्वारा वहन किया जाएगा और बीमा आठ साल बाद अपग्रेड हो जाएगा.’ बैठक में श्री माता वैष्णो देवी नारायण सुपर स्पेशिएलिटी हॉस्पिटल के कामकाज पर भी चर्चा हुई. उन्होंने कहा कि बोर्ड ने अपने सामाजिक सहयोग उपक्रम के तहत अस्पताल में घायल तीर्थयात्रियों के इलाज के लिए मेडिकल सहयोग नीति पारित की.

  • 1
    Share

LEAVE A REPLY