केरल में मौत बनकर आई बारिश, देखें तबाही की दर्दनाक तस्वीरें


पिछले कई दिनों से केरल में लगातार हो रही बारिश के कारण करीब 54,000 लोग बेघर हो गए हैं और 29 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई। राज्य के 58 बांधों में से 24 के जलाशयों की अधिकतम भंडारण क्षमता पार हो गई है, जिसके कारण अधिकारियों को स्लुइस गेट खोलकर पानी छोडऩा पड़ा। भारी बारिश से इदुक्की जलाशय के चेरुथनी बांध के गेट 26 साल में पहली बार खोलने पड़े। इसे एशिया का सबसे बड़ा आर्च बांध माना जाता है। इससे 600 क्यूसेक पानी छोड़ा गया। अधिकारियों ने जलाशय में जलस्तर 168.20 मीटर चले जाने के बाद इदमलयार बांध पर रेड अलर्ट जारी कर दिया।

वहीं इडुक्की जिले में मुन्नार स्थित रिजॉर्ट में 50 से ज्यादा पर्यटक पिछले दो दिनों से फंसे हुये हैं, जिनमें 24 विदेशी नागरिक भी शामिल हैं। केरल के मुख्यमंत्री पी. विजयन ने भी थलसेना, नौसेना, वायुसेना, तटरक्षक बल और एनडीआरएफ की ओर से चलाए जा रहे बाढ़ राहत कार्यों और बाढ़ की स्थिति की समीक्षा की। राज्य प्रशासन ने इडुक्की, कोट्टायम, मलप्पुरम, पलक्कड़, कोझिकोड, कोल्लम, एर्नाकुलम समेत कई ज़िलों में रेड अलर्ट जारी कर दिया हे। पूरा प्रशासन राहत और बचाव अभियान में जुटा है। इस बीच, विलिंगडन द्वीप की इमारतों की सुरक्षा के लिए नौसेना की दक्षिणी कमान मुख्यालय को अलर्ट पर रखा गया है।

  • 534
    Shares

LEAVE A REPLY