देसी अंडे के शौकीन हैं तो हो जाएं सावधान, ऐसे बन रहे हैं नकली अंडे – पुलिस ने किया भंडाफोड़


Desi Eggs

सर्दी का मौसम हो या कोई अन्य मौसम अंडे खाने वाले हर कीमत पर अंडे खरीदते और खाते है क्या आप बता सकते है की जो अंडे आप खरीद रहे है वह सही है| लखनऊ की आलमबाग पुलिस ने चाय की पत्ती, कत्था और शैम्पू से फार्मी अंडे को देशी बनाकर बड़े पैमाने पर हो रही कालाबाजारी का भंडाफोड़ किया है. पुलिस ने कार्रवाई कर इस कारोबार में शामिल दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है. आरोपियों से पूछताछ के बाद पुलिस ने सुजानपुरा स्थित गोदाम से 1200 कैरेट अंडे बरामद किए हैं. पुलिस की सूचना पर पहुंची खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन की टीम भी छानबीन करने में जुट गई है. फार्मी अंडे को फर्जी तरीके से देशी अंडे की शक्ल देकर बेचा जा रहा था.

आरोपितों से पूछताछ में पता चला कि फार्मी अंडे 72 रुपये दर्जन के रेट से कानपुर से मंगवाते थे. चाय की पत्ती, कत्था और शैम्पू को खौलाकर उसमें एक मिनट के लिए इन अंडों को डालते हैं. अंडे की जर्दी सूखने न पाए इसके लिए उसे तुरंत ठंडे पानी में डाल देते थे. कत्था और चाय की पत्ती की वजह से इसपर हल्का गुलाबी रंग चढ़ जाता है और शैंपू से अंडा चमकदार हो जाता है. इस अंडे को देशी बताकर आठ से दस रुपये तक में बेचा जा रहा था.

lucknow police arrested 2 accused of fraudulent egg traders

मामले की जानकारी देते हुए लखनऊ पुलिस के एडिशनल एसपी संजीव सिन्हा ने बताया कि फार्मी अंडे को देशी बनाने के कारोबार की जानकारी पर सुजानपुरा स्थित फहद के मकान पर छापेमारी की गई. दो मंजिल के मकान को अंडे का गोदाम बनाया गया था. जहां, रामपुर निवासी हासिम और आरिफ मकान को किराए पर लेकर, यहां से फार्मी अंडे को देशी बनाने का गोरखधंधा कर रहे थे.

पुलिस ने बताया कि ये एक दिन में तीन से चार सौ कैरेट नकली देशी अंडे की सप्लाई मार्केट में सप्लाई करते थे. इसके लिए इन्होंने कमिशन पर 25 एजेंट रखे गए थे, जो छापेमारी की जानकारी पाकर फरार हो गए. पुलिस ने कार्रवाई करते हुए हासिम और आरिफ को गिरफ्तार करके 12 सौ कैरेट अंडे बरामद किए हैं, जिसमें 900 कैरेट फार्मी और 300 कैरेट फार्मी से बनाए गए देशी अंडे शामिल हैं. पुलिस ने बताया कि आगे की छानबीन के लिए एफएसडीए की टीम को बुलाया गया है, जो जांच कर रही है.


LEAVE A REPLY