ट्रेनों में परोसे जाने वाली भोजन की क्वालिटी फेल


लुधियाना – ट्रेनों में परोसे जाने वाली खाद्य सामग्री घटिया होने से यात्री ट्रेनों में भोजन करने से कतराने लगे हैं। यात्रियों अमित मदान, राजकुमार, रवि कुमार आदि का आरोप है कि शताब्दी एक्सप्रेस और अन्य ट्रेनों में फस्ट क्लास एसी में सफर करने पर भी भोजन सही नहीं मिल रहा है। इसके साथ ही ट्रेनों में मेडिकल सुविधा नहीं होने यात्रियों को परेशानी होती है। शिकायत पुस्तिका में लगातार शिकायत किए जाने के बावजूद कैटरिंग व्यवस्था में सुधार नहीं होने और मेडिकल सुविधा भी नहीं मिलने से यात्री परेशान हैं। यात्री डिंपल मदान, अमित कुमार, लक्ष्मी कांत गुप्ता ने रोष जताते हुए आरोप लगाया कि शताब्दी एक्सप्रेस में सफर के दौरान यात्रियों के लिए परोसे जाने वाली ब्रेकफास्ट, लंच, डिनर की क्वालिटी सही नहीं है। आलम यह है कि ब्रेकफासट, लंच, डिनर परोसे जाते हैं तो अधिकांश सवाल खड़े करते हैं कि परोसे जाने वाली सामग्री गर्म नहीं होती।

ब्रेकफास्ट, लंच, डिनर में परोसे जाने वाली खाद्य सामग्री खाने योग्य नहीं होता है। वेजिटेरियन प्लेन कटलेट बासी होता है। सलाद के नाम पर खानापूर्ति हो रही है। आईस्क्रीम की क्वालिटी सबसे खराब होती है। अमृतसर से नई दिल्ली चलने वाली शताब्दी एक्सप्रेस, अमृतसर सहरसा चलने वाली गरीबरथ व अन्य ट्रेनों में सफर करने वाले यात्री रेल विभाग से मांग कर रहे है कि भोजन व्यवस्था की उच्चस्तरीय जांच हो और क्वालिटी में सुधार हो। इस संबंध में फिरोजपुर रेल मंडल के सीनियर डीसीएम हरि मोहन शर्मा ने बात करने पर उन्होंने कहा कि खाने-पीने सामान की क्वालिटी की जांच होते रहती है। यात्रियों की शिकायत है तो वे अपने स्तर से फिर इसकी जांच करवाएंगे।

  • 1
    Share

LEAVE A REPLY