पंजाब में शरारती तत्वों के मंसूबों को नहीं होने देंगे कामयाब – सुखदेव भौर


लुधियाना – संत रामानंद के बारे में की गई टिप्पणी के कारण पुलिस द्वारा मामला दर्ज करके अदालत द्वारा 22 सितम्बर तक न्यायिक हिरासत में भेजे गए शिरोमणि गुरुद्धारा प्रबंधक कमेटी के पूर्व महासचिव सुखदेव सिंह भौर को जमानत होने पर आज दोपहर 2 बजे के लगभग ताजपुर रोड स्थित सैंट्रल जेल से रिहा कर दिया गया।

जेल से रिहा होते ही उनके समर्थक सुखदेव सिंह भौर के गले मिले और उन्होंने वाहेगुरु जी का खालसा-वाहेगुरु जी की फतेह के जयघोष लगाए। भौर ने कहा कि अपने भाषण की सोशल मीडिया पर वायरल टिप्पणी केे लिए फेसबुक पर माफी भी मांग चुके हैं। गुरु का सच्चा सिख होने के नाते सभी धर्मों का सम्मान करना मेरा कत्र्तव्य है।

उन्होंने कहा कि वह पंजाब में शरारती तत्वों के मंसूबों को कभी कामयाब नहीं होने देंगे और वह किसी जाति या धर्म के विरोधी नहीं हैं। इस दौरान एस.जी.पी.सी. के पूर्व सचिव त्रिलोचन सिंह, जत्थेदार गुरदर्शन सिंह, जत्थेदार सतबीर सिंह, ज्ञानी जसवंत सिंह, जत्थेदार मंजीत सिंह बंगा आदि उपस्थित थे।

  • 719
    Shares

LEAVE A REPLY