शहर में 60 हजार प्रॉपर्टी मालिकों ने नहीं भरा है प्रॉपर्टी टैक्स, नगर निगम अपने निर्धारित लक्ष्य से है पीछे


property tax Ludhiana

लुधियाना नगर निगम ने बजट में प्रॉपर्टी टैक्स ब्रांच को 95 करोड़ एकत्रित करने का लक्ष्य दिया था, जो की बाद में इस लक्ष्य को 95 करोड़ से घटाकर 90 करोड़ रुपये कर दिया। प्रॉपर्टी टैक्स जमा करवाने की आखिरी तारीख 31 मार्च है ऐसे में टैक्स जमा करवाने के लिए अब सिर्फ 16 दिन बाकी रह गए, लेकिन प्रॉपर्टी टैक्स ब्रांच अब भी अपने टारगेट से करीब 22.50 करोड़ रुपये पीछे है। निगम में 60 हजार के करीब प्रॉपर्टी मालिक ऐसे हैं जिन्होंने अभी तक अपना टैक्स जमा नहीं करवाया है। निगम अफसरों को उम्मीद है कि इन आखिरी दिनों में यह लोग भी अपना टैक्स जमा करवा देंगे और वह लक्ष्य को हासिल कर लेंगे। नगर निगम में चार लाख के करीब प्रॉपर्टीज हैं, जिसमें से 2.25 लाख प्रॉपर्टीज का ही प्रॉपर्टी टैक्स जमा होता है। बाकी की प्रॉपर्टीज को माफी की श्रेणी में रखा गया है। सवा दो लाख प्रॉपर्टीज में 60 हजार प्रॉपर्टीज ऐसी हैं जिनका अभी तक प्रॉपर्टी टैक्स जमा नहीं हो सका। नगर निगम की तरफ से लगातार टैक्सपेयर को एसएमएस व नोटिस के जरिए अलर्ट किया जा रहा है।

जानकारी के मुताबिक नगर निगम चार बार 70-70 हजार लोगों को टैक्स जमा करवाने के लिए अलर्ट व लिंक भेज चुका है। इसके अलावा निगम 40 हजार के करीब नोटिस भी डिफाल्टरों को भेज चुका है। इसके बावजूद काफी संख्या में लोगों ने टैक्स जमा नहीं करवाया। निगम अफसरों का कहना है कि पिछले साल जितना प्रॉपर्टी टैक्स वसूला था इस बार अब तक उतना टैक्स वसूल लिया गया है।

नगर निगम में एक तरफ है स्टाफ कम और दूसरी तरफ थमा दी गई है चुनाव ड्यूटी

नगर निगम में कुल चार लाख प्रॉपर्टीज हैं, जिनसे टैक्स वसूली का जिम्मा प्रॉपर्टी टैक्स इंस्पेक्टरों पर है। नगर निगम के चारों जोनों में प्रॉपर्टी टैक्स में कुल 17 इंस्पेक्टर हैं, जोकि मानकों के हिसाब से नाकाफी हैं। मानकों के हिसाब से प्रति चार हजार प्रॉपर्टीज पर एक इंस्पेक्टर होना चाहिए। प्रॉपर्टी टैक्स ब्रांच एक तरफ स्टाफ का रोना रो रही है वहीं दूसरी तरफ कर्मचारियों की ड्यूटी चुनाव में लगने से रिकवरी प्रभावित हो गई है। इसके बावजूद ब्रांच के अफसरों का दावा है कि इन 16 दिनों में प्रॉपर्टी टैक्स वसूलने का लक्ष्य पूरा कर लिया जाएगा।

शराब ठेकों, पेट्रोल पंपों व अन्य संस्थानों को जारी किए गए हैं नोटिस

विधायक संजय तलवाड़ ने नगर निगम को शिकायत भेजी थी कि शराब के ठेकों से प्रॉपर्टी टैक्स नहीं वसूला जाता है। उसके बाद निगम ने शराब ठेकों के मालिकों को नोटिस भेजे थे। इसके अलावा पेट्रोल पंप, बैंक व अस्पतालों को भी प्रॉपर्टी टैक्स जमा करवाने के लिए नोटिस भेजे गए। इनमें से कुल लोगों ने टैक्स जमा करवा दिया, जबकि काफी संख्या में ऐसे लोग बचे हैं जिन्होंने अभी तक प्रॉपर्टी टैक्स जमा नहीं किया। निगम अब उनके खिलाफ कार्रवाई करने की योजना तैयार कर रहा है।

  • 8
    Shares

LEAVE A REPLY