बारिश में भी निगम अंजान, डंप के बाहर बिखरा कूड़ा बीमारियों को दे रहा न्योता


शहर में मानसून ने दस्तक दे दी है और शहर की सड़कें पानी से लबालब भरने लगी हैं। सड़क किनारे बने कूड़ा डंप के कूड़ा बाहर बिखरा पड़ा है जो पानी के साथ बह जाता है। बारिश के कुछ घंटे बाद जब पानी निकलता है तो वह कूड़ा शहर की सड़कों पर जमा हो जाता है। इसके अलावा डंप के बाहर जमा कूड़ा भी पानी से गीला हो जाता है। उसमें कीटाणु पैदा होने लगते हैं। जिसकी वजह से बीमारियां फैल सकती हैं। निगम ने अगर कठोर कदम नहीं उठाए तो बरसात के सीजन में महामारी भी फैल सकती है। यह समस्या जहां नेशनल हाईवे व अन्य सड़कों पर है वहीं शहर के अंदरूनी इलाकों में बने कूड़ा डंप के भी यही हाल है। इन इलाकों में बाहर पड़ा रहता है कूड़ा

ख्वाजा कोठी चौक, किताब बाजार, फील्ड गंज व अन्य इलाकों में कूड़ा डंप के लिए शेल्टर बने हैं फिर भी कूड़ा बाहर बिखरा रहता है। शहरवासी मनोज कुमार का कहना है कि नगर निगम ने कूड़ा प्रबंधन के लिए निजी कंपनी को ठेका दे दिया लेकिन इस पर कोई विशेष ध्यान नहीं दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि बरसात के दिनों में खुले में पड़ा यह कूड़ा बीमारियों को न्योता दे रहा है। विपिन कुमार का कहना है कि बरसात के पानी के साथ कूड़ा बहकर इधर-उधर चला जाता है जिसकी वजह से शहर में गंदगी फैल जाती है। उन्होंने कहा कि जब तक कूड़े को प्रोपर तरीके से कवर नहीं किया जाता तब तक ऐसी ही स्थिति बनी रहेगी।

  • 1
    Share

LEAVE A REPLY